God Quotes in Hindi + Images ( ईश्वर पर हिंदी सुविचार ) || Spiritual Quotes

God Quotes in Hindi + Images ( ईश्वर पर हिंदी सुविचार ) || Spiritual Quotes

God Quotes in Hindi Language with Images. ईश्वर पर हिंदी सुविचार . God Motivational Blessing Quotes in Hindi, Spiritual Life Suvichar.

परमात्मा हमारे पिता सामान हैं, जैसे पिता

अपने बच्चो की देखभाल करता है, वैसे ही

परमात्मा अपने बच्चो की निरंतर देख भाल करते है।


भगवान मंदिर बनवाने, दान देने से नहीं मिलते

वह मिलते है मन को मंदिर बनाने से, नफरत

भेदों को दान देने से मिलते है।


भगवान शरीर साफ़ करने, गंगा नहाने से नहीं मिलते,

भगवान प्राप्ति के लिए नियत साफ़ होनी चाहिए।


भगवान बुराई करने वाले को प्राप्त नहीं होते। बल्कि

अच्छाई करने से प्राप्त होते है।


जिस दिन हमारा मन परमात्मा को याद करेगा, दिलचस्पी लेगा

उसी दिन से परेशानिया दिलचस्पी लेना बंद कर देगी।


परमात्मा के अनमोल, अद्भुत रत्न हैं

जिसका मूल्य आका नहीं जा सकता।


तुम परमात्मा की थोड़ी सी तलाश कर लो

वह स्वयं तुम्हे ढूंढ लेंगे।


किसी संत ने कहा, तू कर ले हिसाब, अपने हिसाब से

लेकिन परमात्मा हिसाब लेगा, अपने हिसाब से।


व्यक्ति अपने जीवन में कितना सही है, कितना गलत

इसे बस दो लोग जानते है – ‘आत्मा ‘ व ‘ परमात्मा ‘


भगवान के सामने जो शीशा झूलता है

सबको अच्छा लगता है,

पर जो सबके सामने झूलता है, वह ईश्वर को प्यारा लगता है।


मत करना स्वयं पर कभी अभिमान

यह शरीर मट्टी का है, ईश्वर ने इस मट्टी के पुतले को

मट्टी में ही मिलाया है।


आत्मा के संतोष का दूसरा नाम है – ‘ स्वर्ग ‘


उस दिन हमारी सारी मुसीबते, दिमाग से ख़तम हो जाएगी

जिस दिन हमें विश्वास हो जाएगा, हर कार्य ईश्वर की

मर्ज़ी से होता है।


अपने कर्मों से डरिये, ईश्वर से नहीं

ईश्वर तो माफ़ कर देगा, लेकिन कर्म नहीं।


कोई भी गिला शिकवा, ईश्वर के फैसले पर मत करो

अगर सज़ा मिल रही है, तो गुनाह ज़रूर हुआ होगा।


मैं बार – बार ईश्वर होने का सबूत ढूंढ़ता हूँ

ईश्वर ने एक बार भी, इंसान होने का सबूत नहीं माँगा।


हे प्रभु हमने तुम्हे देखा नही, मिले नहीं,

ऐसा क्या रिश्ता है, दर्द में तेरी ही याद आती है।


अगर आप अध्यात्म वादी है, तो चिंतन उस परमपिता की करिये

जो बिना चाहे, हम सबकी चिंताओं का हरण कर लेता है।


सच कहूँ तो प्रभु नाम में विश्वास से बढ़कर

कोई श्रेष्ट चिंतन नहीं। चिंता का निवारण भी नहीं।


कोई भी व्यक्ति किसी, देवता की पूजा विश्वास के साथ करता है

मैं उसकी आस्था, उसी, देवता में ओर आगे बड़ा देता हूँ।


हे परमात्मा अच्छे लोगो को, अच्छी रह दिखा

सही रह दिखा। और

बुरे लोगो में मेरी बाह पकड़ कर

अच्छी रह दिखा ; शुरुआत मुझसे कर।


अगर ईश्वर नहीं है तो जिक्र क्यों

भगवान है तो फ़िक्र क्यों।


ईश्वर जो देता है, उसे कोई ले नहीं सकता

अगर ईश्वर ही छीन ले, तो कोई दे नहीं सकता।


भगवान के लिए प्रयोग की गई चीज़

कभी व्यर्थ नहीं जाती

चाहे वह सांस हो या वक्त


भगवान पर विश्वास उस बच्चे की तरह रखे

जब पिता बच्चे को हवा में उछलता है तो बच्चा खुश होता है

क्योकि वह जनता है पिता बच्चे को गिरने नहीं देगा

यह स्थिति परतात्मा की भी है।


ईश्वर की भावना लेने के लिए, साधक धीरे – धीरे उनकी

और बढ़ता जायेगा, जितना अधिक भावना लेगा,

उतना ही अधिक ईश्वर के होगा।


हवा पहले से थी, लेकिन पत्तो के उड़ने का आभास नहीं हुआ

भगवान है, यह अहसास भक्ति करके हुआ।


प्रत्येक जीव में आत्मा का वास होता है

आत्मा परात्मा अंग है। इसलिए दुसरो की सेवा करे

परात्मा खुश होंगे। परात्मा खुश होंगे तो आपको

खुश शांति की प्राप्ति होगी।


मंज़िल मुझे छोड़ गयी, रास्ते ने पाल लिया

जिंदगी तू जा, तेरी जरुरत नहीं

मुझे कृष्ण ने संभाल लिया।


हम जब जीवन के ख़राब दौर से गुज़रते है,

तब ये विचार आता है, परमात्मा क्यों इतना

दुःख दे रहे है। मौन क्यों है।

पर हमें यह याद रखना होगा जब परीक्षा चलती है ,

तो शिक्षक चुप ही रहता है।


यदि भगवान का आशीर्वाद चाहते हो

 पहले खुद मुस्कुराओ और दूसरों को मुस्कुराने की वजह बनो।


जीवन में कितने ही परेशानियां  आए

 चिंता ना करें खामोश रहे सब्र रखें

 ईश्वर को धन्यवाद कहे

 यह सब कुछ तेरा उपहार है।


 भगवान मिट्टी की मूर्ति लकड़ी पत्थर में

 नहीं मिलते वह तो हमारे अच्छे विचारों व

 खुद हृदय में रहते हैं।


 मनुष्य बातें तो लाखों करोड़ों की करता है।

 लेकिन भगवान के द्वार पर चढ़ाने की बात

 आती है तो जेब से छुट्टे पैसे को ढूंढता है।


 ईश्वर से प्रार्थना सच्चे हृदय से होनी चाहिए ।

भगवान प्रार्थना उन्हीं की सुनता है

 जो सच्चे मन से उन्हें पुकारता है।


 व्यक्ति को उदास नहीं होना चाहिए

 भगवान हमारे आसपास है

 सच्चे दिल से याद करें, आप में आत्मविश्वास

 जागेगा। ईश्वर आसपास है।


 भगवान पर विश्वास व प्रार्थना दिखते नहीं

यह दोनों पावरफुल है

 असंभव को संभव बना देते हैं।


 भगवान को जानने के लिए मन में एकाग्रता,

 श्रद्धा संयम चाहिए, जिनके पास यह सब होगा

 उन्हें शान चक्र प्राप्त होगा।


 भगवान मिट्टी की मूर्ति में नहीं

 वह साधना, और आत्मज्ञान से प्राप्त होते हैं

 इसलिए ध्यान लगाना जरूरी है

 सब कुछ आपके अंदर है बस उसे साधना से पाना है।


 भगवान हमें कुछ दिनों के लिए मुसीबतें देता है।

 हमारी मुसीबतों में परीक्षा भी लेता है

 लेकिन उन मुसीबतों से लड़ने का साहस भी वही देता है।


 रात का अंधेरा खत्म हो रहा है

 सूरज की किरणें खेल रही है,

 उठो, इस ईश्वर को धन्यवाद कहो

 जिसने तुम्हें नहीं एक सुबह दी है।


 कभी कभी भगवान दवा की जगह दुआओं

 का असर दिखाते हैं।

 ठीक वैसे ही सच्चा गुरु मिल जाए तो

 ईश्वर प्राप्ति का रास्ता दिखाते हैं।


इस पूरे संसार में भगवान ने, केवल इंसान

 को मुस्कुराने का  गुड़ दिया है, इस गुण को

 उपेक्षा भाव करें, मुस्कुराए यह गुण हमारे पास है।


 भगवान कहते हैं खुद का किया एहसान ना रखो याद,

 पर दूसरों का किया गया ऐसा हमेशा याद रखो।


 परमात्मा कभी भाग नहीं लिखते

 जीवन के पथ पर हमारी सोच विचार व कर्म ही

 हमारा भाग लिखते हैं।


 अच्छे दिन आए या ना आए इसका तो पता नहीं।

  लेकिन ईश्वर को बार-बार याद करने पर

  आने वाले  बुरे दिन  कल जाएंगे।


  गजब है गुरु  की इबादत,

 सिर्फ साथ बैठने मात्र से

 भगवान प्राप्ति का ज्ञान देकर

 अपना बना देते हैं।


 

Leave a Reply